Now Loading

जल और मृदा संरक्षण के उपायों पर विचार रखे

झांसी। रानी लक्ष्मीबाई केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय झांसी में आज सुफलाम राष्ट्रीय संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र के मुख्य वक्ता के रूप में समाजसेवी संगठन परमार्थ के सचिव डा. संजय सिंह ने बुंदेलखंड में बढ़ते जलवायु संकट के प्रभावों, जल एवं मृदा संरक्षण के उपायों पर विचार रखे। उन्होंने जल संरक्षण के लिए और प्रभावी ढंग से कार्य करने पर बल दिया। उन्होंने अपने संगठन की ओर से जल संरक्षण के लिए किए गए कार्यों की जानकारी दी। गोष्ठी में दो दिन तक जलवायु संकट और खेती से जुड़े पहलुओं पर गहन चर्चा की जायेगी। संगोष्ठी के उदघाटन सत्र की अध्यक्षता महात्मा गांधी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ0 जे0एस0 गौतम ने की। इस अवसर पर वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक, विद्यार्थी, किसान, सामाजिक कार्यकर्ता, मीडिया के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।