Now Loading

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हरिद्वार में निर्मित 100 कक्षो युक्त भव्य भागीरथी पर्यटन आवास गृह से यात्रियों को मिली सुविधा।

पीलीभीत।प्रदेश सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटकों, श्रद्धालुओं को सुविधा प्रदान करने के लिए सभी प्रकार की अवस्थापना व्यवस्था कर रही है। प्रदेश सरकार पर्यटक/तीर्थ स्थलों पर ठहरने आदि के लिए आवश्यक व्यवस्था, प्रदेश के साथ-साथ पड़ोसी प्रदेशों में भी कर रही है। इसी व्यवस्था के दृष्टिगत उत्तराखण्ड राज्य के गठन के उपरान्त समझौते के तहत उत्तर प्रदेश को उत्तराखण्ड के हरिद्वार में जमीन उपलब्ध करवाई गई, जिस पर प्रदेश सरकार द्वारा 100 कक्षों का आकर्षक भव्य पर्यटक आवास गृह तैयार किया गया है। इस पर्यटन भवन का नाम ’’भागीरथी पयर्टन आवास गृह’’ रखा गया है। इस आवास गृह का निर्माण उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संकल्पित योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा स्वीकृत लागत रू0 3430.86 लाख में निर्धारित समय-सीमा के अन्दर पूर्ण कराया गया है।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बनाये गये इस भव्य भागीरथी आवास में 100 कमरे हैं। जिनमें 90 डीलक्स और 10 सुइट वीआईपी रूम हैं। इसी के साथ पर्यटक आवास में सेंट्रलाइज्ड एसी, 3 लिफ्ट, रेस्टोरेंट और दो बैंक्वेट हॉल की सुविधा है। इस पर्यटन होटल के एक बैंक्वेट हॉल में 100 लोगों के एकत्र एवं दूसरे में 150 लोगों के एकत्र होने की क्षमता है। इसमें किसी विशेष अवसर पर पर्यटक कोई भी कार्यक्रम आयोजित कर सकते हैं। यह पर्यटन आवास उ0प्र0 के तीर्थ यात्रियों, पर्यटकों के लिए सुविधाजनक हो गया है।भागीरथी पर्यटन आवास गृह के निकट ही माँ गंगा नदी का प्रवाह है। इस आवास गृह में ठहरने पर पर्यटक मां गंगा के दर्शन अपने कमरे की बालकनी से भी कर सकते हैं। साथ ही प्रांगण में छोटा सा मंदिर भी बनाया गया है। इस पर्यटक आवास को बनाने का मुख्य उद्देश्य यह है कि प्रदेश के जो लोग चार धाम यात्रा के लिए आते हैं, उनको अच्छी आवास सुविधा उपलब्ध कराई जा सके। उ0प्र0 पर्यटन विभाग की तरफ से उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा निर्मित यह आवास सभी यात्रियों के लिए उपलब्ध रहेगा। भागीरथी पर्यटन आवास गृह में लगे छायाचित्र भारतीय संस्कृति को परिभाषित करते हैं, जो भवन की सुन्दरता और आकर्षण को निखारते हैं। भागीरथी पर्यटन आवास गृह, हरिद्वार का लोकार्पण उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के कर कमलों द्वारा पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उत्तर प्रदेश जयवीर सिंह व साधु-संतों की गरिमामय उपस्थिति में 05 मई, 2022 को सम्पन्न हुआ है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बनवाये गये कुशल कारीगरी एवं गुणवत्तायुक्त निर्मित इस पर्यटन आवास गृह, की गणमान्यजनों पर्यटकों द्वारा अत्यधिक सराहना एवं प्रशंसा की जा रही है।