Now Loading

जिलाधिकारी द्वारा मॉ गोमती की अविरल धारा के पुरनौद्वार महा अभियान के अन्तर्गत कराये जा रहे कार्यों का पैदल भ्रमण कर लिया गया जायजा।

पीलीभीत।जिलाधिकारी पुलकित खरे द्वारा माँ आदि गंगा गोमती की अविरल धारा के पुरनौद्वार एवं स्वच्छ करने का महाअभियान के तहत कराये जा रहे कार्यों का देर शाम औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान माँ गोमती उद्गम स्थल से ग्राम पंचायत नवदिया मकसूदपुर, लौकाहाई फार्म, उदयकरनपुर, नवदिया सुल्तानपुर व गोमती गुरद्वारा तक के कार्यों का पैदल भ्रमण कर जायजा लिया गया। निरीक्षण के दौरान मनरेगा जॉबकार्ड धारकों के अधिक से अधिक मजदूर कार्य पर लगाने के कडे़ निर्देश दिए गये। इसके साथ ही साथ ही जहां जहां गोमती नदी की चौड़ाई कम हैं वहां पर चौड़ीकरण कराने के निर्देश दिये गये। निरीक्षण के दौरान डीसी मनरेगा को निर्देशित किया गया कि नदी से निकल रही सिल्ट नदी के किनारे न लगाई जाये क्योंकि बरसात के दिनों में सिल्ट पुनः नदी में बहकर आ जायेगी, नदी के किनारे से सिल्ट हटाने के निर्देश दिये गये तथा आगे की ग्राम पंचायतों द्वारा कार्य कराये जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया जाये। खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया कि मनरेगा के तहत कार्य कर रहे मजदूरों को सुबह-शाम पानी पीने की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने कहा कि मॉ गोमती की अविरल धारा हेतु जो संकल्प लिया गया उसे पूर्ण कराया जायेगा। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी इस दौरान ग्राम प्रधानों को निर्देशित किया गया कि मजदूरों की संख्या में बढ़ोत्तरी कर कार्यों में तेजी लाना सुनिश्चित किया जाये।इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी प्रशान्त कुमार श्रीवास्तव, डीसी मनरेगा, खण्ड विकास अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।